Rashtriy Kutumb Sahay Yojana – Sankat Mochan Yojana 2021

Sankat Mochan Yojana

हम सब अच्छी तरह से जानते है की किसी भी गरीब घर में कमाई करनेवाले व्यक्ति का अचानक अगर किसी कारण मृत्यु हो जाए तो उस घर में आफतो का पहाड़ जैसे आ गिरता है | और उस घर के लोगो का इस मुश्केली का सामना बहोत कठिन हो जाता है | एक तो वो लोग गरीब होते है और ऊपर से कुटुंब के मुख्य व्यक्ति का अचानक मृत्यु हो जाने से उस घर में मुश्केलिया और बढ़ जाती है | ऐसे समय में इस घर के लोगो को वितीय सहाय की जरुरत होती है पर स्वमान गवाने के डर से किसीसे मांग नहीं पाते है |

इसी बात को ध्यान में रखते हुए और किसी भी घर में कमाई करने वाले मुख्य व्यक्ति पुरुष/स्त्री का अचानक किसी कारण मृत्यु हो जाने पर उस घर के लोगो को मुश्केलियो का सामना न करना पड़े इसलिए Sankat Mochan Yojana यानी की Rashtriy Kutumb Sahay Yojana की शुरुआत की है | संकट मोचन योजना के तहत अगर किसी भी गरीब परिवार में कमी करनेवाला मुख्य व्यक्ति (पुरुष/स्त्री) की अचानक कुदरती या आकस्मिक मृत्यु हो जाने पर उनके परिवार के लोगो को रु.20,000 की वितीय सहाय सरकार की और से दी जाएगी | इस आर्टिकल में हम Sankat Mochan Yojana यानी की Rashtriy Kutumb Sahay Yojana के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देंगे |



What Is Sankat Mochan Yojana

Sankat Mochan Yojana को भारत सरकार के द्वारा पुरे भारत में शुरू की गयी है | इस योजना को 15/08/1995 के दिन शुरू की गयी थी | Sankat Mochan Yojana का शरुआती नाम Rashtriy Kutumb Sahay Yojana रखा गया था जब की अब उसे बदलकर Sankat Mochan Yojana कर दिया गया है |

संकट मोचन योजना के तहत गरीबी रेखा के निचे जिसका BPL स्कोर 0 से 20 के भीतर आता है उन परिवार यानी कुटुंब में अगर किसी मुख्य व्यक्ति जो कमाकर अपने परिवार का भरणपोषण करता है उनका कुदरती या आकस्मिक मृत्यु हो जाने पर उसके परिवार को 20,000 रुपयों की वितीय सहाय दी जाती है | परिवार के मुख्य व्यक्ति में पुरुष या स्त्री जो कमाकर परिवार का गुजरान चलता है उनका समावेश होगा | संकट मोचन योजना के तहत शरुआती दौर में मरने वाले के परिवार को 10,000 रुपयों की वितीय सहाय दी जाती थी पर 15/02/2014 से उसे बढाकर 20,000 रूपये कर दी गयी है |

Sankat Mochan Yojana

Some Sort Details

योजना का नाम राष्ट्रिय कुटुंब सहाय योजना अथवा संकट मोचन योजना
किसने शुरू की  भारत सरकार ने
योजना का व्याप पुरे भारत देश में (सभी राज्यो मे)
लाभार्थी गरीबी रेखा के निचे आने वाले BPL लाभार्थी
मिलने वाली सहाय की राशि 20,000 रूपये
भुगतान की प्रक्रिया DBT भुगतान प्रक्रिया द्वारा
कब शुरू की गई  15/08/1995
आवेदन का प्रकार  ओफलाईन
आवेदन की अंतिम तिथि कोई अंतिम तिथि नहीं रखी गई है | जब चाहो आवेदन कर शकते है | 
आधिकारिक वेबसाइट https://sje.gujarat.gov.in/

Objective

संकट मोचन योजना यानी की राष्ट्रिय कुटुंब सहाय योजना गरीब परिवारों के लिए एक वरदानरूप योजना है | इस योजना में मिलने वाली वितीय सहाय से गरीब परिवार को काफी ज्यादा मदद मिलती है |

  • Kutumb Sahay Yojana को 15/08/1995 के दिन भारत सरकारने शुरू किया था | ये योजना पुरे देश में लागु की गयी है |
  • Sankat Mochan Yojana परिवार के मुख्य व्यक्ति का अचानक मृत्यु हो जाने पर कुटुंब पर जो आफत आ गिरती है उस आफत में उन परिवार के लोगो को सहायरूप होने के लिए शुरू की गयी है |
  • इस योजना का मुख्य उदेश्य गरीब घर में अचानक मुख्य व्यक्ति का मृत्यु हो जाने उसके परिवार को इस आफत में पड़ने वाली मुश्केलियो का सामना करने के लिए वितीय सहाय देकर मददरूप होना है |

Benefite Of Kutumb Sahay Yojana

राष्ट्रिय कुटुंब सहाय योजना के तहत भारत में जो परिवारो का गरीबी रेखा के निचे की यादी में समावेश होता है और इस परिवार में जो व्यक्ति परिवार का गुजरान चला रहा होता है उसका अचानक किसी आकस्मिक या कुदरती कारण से मृत्यु हो जाती है तो मृत्यु होने वाले व्यक्ति के परिवार को भारत सरकार की तरफ से रु.20,000 की वितीय मदद की जाएगी | Sanakat Mochan Yojana के तहत मिलने वाली सहाय की राशि केंद्र सरकार द्वारा DBT सिस्टम के माध्यम से लाभार्थी के बेंक खाते में जमा की जाएगी |

  • कुदरती संजोगो से व्यक्ति (महिला/पुरुष) का मृत्यु हो जाने पर उनके परिवार के लोगो को 20,000 रुपयों की वितीय सहाय मिलेगी |
  • आकस्मिक कारण से व्यक्ति (महिला/पुरुष) का मृत्यु हो जाने पर उनके परिवार के लोगो को 20,000 रुपयों की वितीय सहाय मिलेगी |



Key Point Of Sankat Mochan Yojana

  • इस योजना के तहत 20,000 रुपयों की वितीय सहाय तभी मिलेगी जब कमाई करने वाली व्यक्ति यानि की परिवार का भरणपोषण करने वाली व्यक्ति की उम्र 18 से 70 के बिच की हो |
  • इस योजना का लाभ सिर्फ सिर्फ भारत के नागरिक ही मिलेगा |
  • इस योजना का लाभ भारत देश के किसी भी राज्य के लोग ले सकता है |
  • Kutumb Sahay Yojana के तहत लाभ लेने के लिए मृतक के परिवार को मुख्य व्यक्ति के मृत्यु के 2 साल के भीतर आवेदन करना होगा | यदि 2 साल के बाद आवेदन करोगे तो इस योजना का लाभ नहीं मिलगा |
  • इस योजना के तहत लाभ लेने वाला व्यक्ति का परिवार गरीबी रेखा के निचे आने वाले परिवारों में से होना चाहिए |
  • आवेदक के परिवार को BPL लाभार्थी होना आवश्यक  है |
  • मृतक के परिवार मे से किसी एक व्यक्ति को ही Sankat Mochan Sahay Yojana के तहत आवेदन करना होगा | और कुस्तुम्ब के सभी लोगो को आवेदन करने के लिए अनुमति देनी होगी |
  • इस योजना के हेतु के लिए कुटुंब की व्याख्या में पति-पत्नी,सगीर बच्चे, अविवाहित बेतिया और आश्रित माता-पिता का समावेश किया गया है |

Document List

  • आवेदक का ID Proof ( आधार कार्ड, मतदान कार्ड )
  • आवेदक का Residencial Proof ( रेशन कार्ड)
  • BPL लाभार्थि का 0 से 20 स्कोर का प्रमाणपत्र
  • परिवार के मुख्य व्यक्ति का मृत्यु प्रमाणपत्र
  • आक्श्मिक मृत्यु हुआ हो तो पोस्ट मोटम रिपोर्ट, पुलिश फरियाद की नक़ल, और पंचनामा
  • परिवार के दुसरे लोगो को संमती पत्रक
  • बेंक पासबुक
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • परिवार की विगत
  • सोगंदनामा

Kutumb Sahay Yojana Form

If You Wish To Download Kutumb Sahay Yojana Application Form Then Click Link Below

Click Here :- Sankat mochan yojana application form

Application Process 

यदि आप कोई भी व्यक्ति कुटुंब सहाय योजना के तहत लाभ लेने के लिए आवेदन करना चाहता है तो उसे उपर बताये हुए सभी दस्तावेज लेकर निचे बताई हुई कचेरी जाना होगा |

  • यदि आवेदक शहेरी विस्तार से बिलोंग करता है तो प्रान्त कचेरी जाकर आवेदन करना होगा |
  • यदि आवेदक ग्रामीण विस्तार से हे तो नायब जिल्ला विकाश अधिकारी की कचेरी जाकर आवेदन करना होगा |
  • यदि आवेदक महानगरपालिका विस्तार से बिलोंग करता है तो उसे कमिश्नर नगरपालिका यु.डी.सी की कचेरी में जाकर आवेदन करना होगा |

Sankat Mochan Yojana के अंतर्गत आवेदक द्वारा आवेदन करने के बाद उस आवेदक का आवेदन मंजूर करना और नामंजूर करना शहेरी विस्तार में प्रान्त अधिकारीको, ग्रामीण में नायब जिल्ला विकाश अधिकारीको, और महानगरपालिका में कमिश्नर नगरपालिका को अधिकार दिया गया है |

Leave a Comment